Sunday, November 28EPS 95, EPFO, JOB NEWS

Selected Small Cap Shares Gave Multifold Returns Which Surpasses Many Large Cap Companies

Bumper Return: शेयर बाजार में आपने नाम तो बड़ी बड़ी कंपनियों के सुने होंगे जिनका मार्केट कैप लाखों करोड़ों का होता है लेकिन यहां कई ऐसे छोटे छोटे शेयर भी हैं जो छप्पर फाड़ मुनाफा देते हैं. ऐसे शेयरों में निवेश से कितनी कमाई होती है और निवेश के दौरान क्या-क्या ध्यान रखना चाहिए, हम आपको बता रहे हैं…

पैकेजिंग के लिए बुने हुए बोरे और बुने हुए कपड़े बनाने वाली कंपनी गोपाला पॉलीप्‍लास्‍ट के शेयर (Gopala Polyplast Stock) को सालभर पहले तक पेनी स्टॉक में गिना जाता था. इस कंपनी के शेयर ने एक साल के भीतर निवेशकों को ऐसा बंपर मुनाफा कमाकर दिया है कि पूछिए मत. बॉम्‍बे स्‍टॉक एक्‍सचेंज (BSE) पर 29 अक्टूबर 2020 को कंपनी के स्‍टॉक का भाव (Share Price) 4.51 रुपये था, जो 29 अक्‍टूबर 2021 को बढ़कर 772 रुपये हो गया है. इस दौरान इसने निवेशकों को 17,000 फीसदी का ताबड़तोड़ मुनाफा दिया है.

बाजार में पूंजीकरण
कंपनी का स्टॉक 19 अक्टूबर 2021 को बीएसई पर 1,286.95 रुपये के अपने रिकॉर्ड हाई पर पहुंच गया था. इसका मार्केट कैप करीब 790 करोड़ रुपये है. अगर एक साल पहले किसी निवेशक ने इस शेयर में 1 लाख रुपये निवेश किए होंगे तो वो आज बढ़कर 1.71 करोड़ रुपये हो चुके होंगे. 

मतलब साफ है इस पेनी स्टॉक ने अपने निवेशकों को मल्टीबैगर रिटर्न दिया है. हालांकि, निवेशकों को ध्यान रखना चाहिए कि पेनी स्टॉक अस्थिर होते हैं. ऐसे में केवल ज्‍यादा जोखिम सहने की क्षमता रखने वाले निवेशकों को ही ऐसे शेयरों में निवेश करना चाहिए.

इन बातों का रखें ध्‍यान
पेनी स्टॉक जितनी तेजी से बढ़ता है, उतनी ही तेजी से गिर भी सकता है.

गोपाला पॉलीप्‍लास्‍ट के शेयरों में पिछले एक महीने में 11 कारोबारी सत्र के दौरान 5 फीसदी का अपर सर्किट लगा, जबकि 9 बार इसमें 5 फीसदी का लोअर सर्किट भी लगा है. इस कंपनी की स्थापना 1984 में हुई थी. कंपनी पैकेजिंग के लिए बुने हुए बोरे और बुने हुए कपड़े बनाती है. इनका इस्तेमाल अनाज, सीमेंट, केमिकल्स, फर्टिलाइजर, शुगर जैसी इंडस्ट्री में पैकेजिंग के लिए किया जाता है.

BoB के पास है कितनी हिस्‍सेदारी?
कंपनी का नियंत्रण मुख्य रूप से प्रमोटरों के पास है. इनके पास कंपनी की 92.83 फीसदी हिस्सेदारी है. वहीं, सिर्फ 7.17 फीसदी हिस्सेदारी पब्लिक शेयरहोल्डर के पास है. बैंक ऑफ बड़ौदा इस कंपनी की सबसे बड़ी पब्लिक शेयरहोल्डर है. बैंक के पास कंपनी के 5.12 लाख शेयर यानी 5 फीसदी हिस्सेदारी है. वहीं, विदेशी संस्‍थागत निवेशकों (FIIs) के पास कंपनी की 0.23 फीसदी हिस्सेदारी है.

कैसे रहे तिमाही नतीजे?
गोपाला पॉलीप्‍लास्‍ट को जून 2021 तिमाही में करीब 2 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था. वहीं, पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में उसे 1.46 करोड़ का नुकसान हुआ था. हालांकि, मार्च 2021 तिमाही में कंपनी ने 17 करोड़ रुपये का मुनाफा दर्ज किया था. जून 2021 तिमाही में कंपनी के रेवेन्यू में बढ़ोतरी हुई. इसके बावजूद कंपनी मुनाफे में नहीं आ पाई. जून तिमाही में कंपनी को 10.59 करोड़ की आमदनी हुई, जो पिछले वित्त वर्ष की इसी तिमाही में कोविड लॉकडाउन के चलते शून्य रही थी.

डिस्क्लेमर: (यहां मुहैया जानकारी सिर्फ़ सूचना हेतु दी जा रही है. यहां बताना ज़रूरी है की मार्केट में निवेश बाजार जोखिमों के अधीन है. निवेशक के तौर पर पैसा लगाने से पहले हमेशा एक्सपर्ट से सलाह लें. ABPLive.com की तरफ से किसी को भी पैसा लगाने की यहां कभी भी सलाह नहीं दी जाती है.)

 

ये भी पढ़ें

Diwali 2021: क्या आपने भी इन फंड में किया है निवेश जिन्होंने पिछले 1 साल में कमवाया है 67-80% रिटर्न

Diwali 2021: धनतेरस से शुरू करें 50 रुपए रोजाना का निवेश, इतने दिन में बनेंगे करोड़पति!

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *