Monday, December 6EPS 95, EPFO, JOB NEWS

Share Market Investors Poorer By 14 Lakh Crore Of Rupees In A Month Due To Fall In Stock Market

Share Market Update: भारतीय शेयर बाजार संभलने का नाम नहीं ले रहा. खबर लिखे जाने तक सेंसेक्स 1500 और निफ्टी 450 से ज्यादा अंकों का गोता लगा चुका है. फिलहाल सेंसेक्स 1362 अंकों की गिरावट के साथ 57,426 और निफ्टी 410 अंकों की गिरावट के साथ 17125 अंकों पर कारोबार कर रहा है. 19 अक्‍टूबर को मुंबई स्टॉक एक्सचेंज का सूचकांक Sensex ने 62000 के उच्चतम स्तर को छूआ था. तबसे से लेकर अभ तक मार्केट 8 फीसद कमजोर हो चुका है तो निवेशकों के 14 लाख करोड़ डूब चुके हैं. वहीं केवल आज मुंबई स्टॉक एक्सचेंज में सूचीबद्ध शेयरों का Market Capitalization करीब 6.50 लाख करोड़ रुपये घटकर 259.71 लाख करोड़ पर आ चुका है. 

क्यों है बाजार में मायूसी

सेंसेक्स-निफ्टी दोनों सवा दो फीसदी की गिरावट दिखा रहे हैं. इसके पीछे का प्रमुख कारण ग्लोबल है. आज खबर आई कि दक्षिण अफ्रीका में कोरोनावायरस का एक नया वेरिएंट सामने आया है और इससे वैश्विक बाजारों में घबराहट छा गई है. दक्षिण अफ्रीका से बोत्सवाना और हांगकांग पहुंचे नागरिकों में भी इस नए वैरिएंट के संक्रमण जैसे ही लक्षण मिले हैं. इसी वजह से घरेलू बाजार में फार्मा सेक्टर को छोड़कर कोई भी सेक्टर हरे निशान में कारोबार नहीं कर रहा है. 

वैसे ही भारतीय शेयर बाजारों में बीते दो हफ्ते से गिरावट का सिलसिला देखा जा रहा है लेकिन कोरोना के नए वैरिएंट की खबर आने के बाद बाजार में घबराहट बढ़ गई है. यूरोपियन यूनियन देशों में जर्मनी इटली ने साउथ अफ्रीका से फ्लाइट्स के आने पर रोक लगा दी है. पहले से कई यूरोपीय देशों में कोरोना के बढ़ते मामलों के चलते लॉकडाउन लगाया जा चुका है. 

ब्याज दरें बढ़ने का खतरा

विदेशी निवेशक लगातार बिकवाली कर रहे हैं. तो महंगी महंगाई से भी बाजार में ब्याज दरों के बढ़ने की चिंता है. वैसे भी 6 दिसंबर से आरबीआई के मनीटरी पॉलिसी कमिटी की बैठक होने वाली है और 8 दिसंबर को आरबीआई गर्वनर ब्याज दरों को लेकर अपना रुख साफ करेंगे.

गिरावट से निवेशकों को मौका 

कई जानकारों का मानना है कि बाजार लगातार ऊंचे स्तरों को छूता रहा है और बेहद महंगा भी नजर आ रहा है. बाजार में ऐसी कोई भी बड़ी गिरावट निवेशकों को खरीदारी का मौका देती है. सेंसेक्स 1400 और निफ्टी 400 अंक नीचे लुढ़क चुका था, तो गिरावट की सबसे ज्यादा मार मिडकैप और स्मॉल कैप शेयरों पर पड़ी है. बाजार में डर का आकंलन इसी बात से लगाया जा सकता है कि India VIX 15.45 फीसदी से बढ़कर 19.24 पर जा पहुंचा है. 

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *