Thursday, October 21EPS 95, EPFO, JOB NEWS

Tag:

आंध्र प्रदेश के अस्पतालों में 15 नवंबर तक 14 हजार से ज्यादा पदों पर होगी भर्ती, CM ने दी मंजूरी

आंध्र प्रदेश के अस्पतालों में 15 नवंबर तक 14 हजार से ज्यादा पदों पर होगी भर्ती, CM ने दी मंजूरी

recruitment news
<p style="text-align: justify;">आंध्र प्रदेश राज्य सरकार सरकारी अस्पतालों में 14200 खाली पदों पर भर्ती करेगी. ये पोस्ट डॉक्टरों से लेकर पैरामेडिकल स्टाफ तक और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों (PHCs) से लेकर शिक्षण अस्पतालों तक हैं. राज्य सरकार मौजूदा 11 मेडिकल कॉलेजों के अलावा 16 नए मेडिकल कॉलेजों का निर्माण भी करा रही है.</p> <p style="text-align: justify;"><strong>मुख्यमंत्री ने 15 नवंबर तक भर्ती प्रक्रिया पूरी करने के निर्देश दिए</strong></p> <p style="text-align: justify;">मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा जारी बयान के अनुसार, सीएम वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने इस साल अक्टूबर और नवंबर में इन खाली पदों पर भर्ती की मंजूरी दी है. उन्होंने अधिकारियों से 15 नवंबर तक भर्ती प्रक्रिया पूरी करने को कहा है. इसके साथ ही उन्होंने अधिकारियो...
टेलीकॉम सेक्टर को केंद्र सरकार ने दी बड़ी राहत, मुकेश अंबानी समेत कई दिग्गजों ने की सराहना, जानिए क्या कहा

टेलीकॉम सेक्टर को केंद्र सरकार ने दी बड़ी राहत, मुकेश अंबानी समेत कई दिग्गजों ने की सराहना, जानिए क्या कहा

TECH NEWS
<p style="text-align: justify;"><strong>नई दिल्लीः</strong> केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने बुधवार को टेलीकॉम सेक्टर के लिए राहत पैकेज की घोषणा की थी, जिसे लेकर इस उद्योग जगत से जुड़े दिग्गजों ने सरकार के इस काम की सराहना की है. आदित्य बिड़ला ग्रुप के चेयरमैन कुमार मंगलम बिड़ला, भारती एयरटेल के चेयरमैन सुनील भारती मित्तल और रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा घोषित राहत पैकेज की सराहना की.</p> <p style="text-align: justify;"><strong>टेलिकॉम सेक्टर को राहत पैकेज की घोषणा</strong></p> <p style="text-align: justify;">सरकार ने बकाया भुगतान करने वाले टेलिकॉम सेक्टर को एक राहत पैकेज की घोषणा की है. जिसके तहत अब टेलिकॉम से जुड़े व्यवसायी ...
अरबपतियों पर भी पड़ी कोरोना की मार, देश में 100 करोड़ रुपये से ज्यादा कमाई वालों की संख्या घटी- वित्त मंत्री ने दी जानकारी

अरबपतियों पर भी पड़ी कोरोना की मार, देश में 100 करोड़ रुपये से ज्यादा कमाई वालों की संख्या घटी- वित्त मंत्री ने दी जानकारी

TECH NEWS
<p style="text-align: justify;">कोरोना वायरस का असर देश के गरीबों के अलावा अरबपतियों पर भी पड़ा है. केंद्र सरकार ने इसकी जानकारी आंकड़े जारी कर बताया है. केंद्र सरकार के आंकड़ों पर अगर भरोसा करें तो भारत में अरबपतियों की संख्या में कमी आई है. इसकी जानकारी केंद्र की ओर से वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने खुद संसद में दी. आयकर रिटर्न में घोषित आय के आधार पर वर्ष 2020-2021 में अरबपतियों की संख्या 136 है. यह संख्या पिछले साल के मुकाबले घटी है. पिछले साल 2019-20 में भारत में अरबपतियों की संख्या 141 थी.</p> <p style="text-align: justify;">संसद में मानसून सत्र के दौरान मंगलवार को केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि भारत में 100 करोड़ रुये या इससे अधिक की आय बताने वाले अरबपतियों की संख्या 2020-21 में 136 थी, 20219-20 में इनकी संख्या 141 थी और 201...

लहू के दो रंग

Politics
अख़लाक़ अहमद उस्मानी जनसत्ता 2 सितंबर, 2014: कुरआन और हदीस में बेशुमार जगह अत्याचारियों को इस बात से रोका गया है कि वे धर्म के आधार पर जुल्म करें। कुरआन अल्लाह के कथन हैं और हदीस उसके पैगंबर हजरत मुहम्मद के। लेकिन दो सौ साल पहले पैदा हुई ‘वहाबियत’ और इसके मानने वाले ‘वहाबियों’ को इससे मतलब नहीं। इराक में यजीदियों और शिया ही नहीं, बल्कि अंधाधुंध सुन्नी सूफियों के खून में वहाबी आतंकवादियों के हाथ डूबे हुए हैं। इराकी संसद में अकेली यजीदी सांसद वियान दाखिल की पांच अगस्त की दारुण अपील को दुनिया भर ने देखा। कुर्दिश गठबंधन की सांसद दाखिल ने सिंजर की पहाड़ियों में इस्लामी स्टेट या आइएसआइएस के आतंकवादियों की मुट्ठी में कैद एक पूरी कौम की कारुणिक दशा का वर्णन किया तो दुनिया सकते में आ गई। इस्लामी स्टेट या आइएसआइएस के आतंकवादियों की नजर में यों तो इंसानी जान की कोई कीमत नहीं, लेकिन यजीदी समुदाय को विशे...